Showing 2 Result(s)
best poem on rain
HINDI KAVITA HOME

Kavita on varsha ritu \ poem on rainy season

रिम झिम की लग गई छड़ी रे इन्द्र की घूम गई छड़ी रे आई आई सावन रुत आई रे नभ में घटा फिर छाई रे गा रही सखियाँ मिलन के गीत रे पड गए झूले , मिले मनमीत रे गोरी के दिल में जागी है प्रीत रे निभाएंगे मिलकर प्रेम की रीत रे बारिश का …

Corona ka aatank
HINDI KAVITA HOME

Corona ka aatank

कोरोना ( कविता ) कोरोना कोरोना आई महामारी , कोरोना की मारी यह दुनिया सारी| -२ कहाँ से तू आई , कैसे तू आई | सारे जग मैं तूने आफत मचाई | सबको सताया तूने, सबको रुलाया, जाने की अब तू करले तैयारी | कोरोना कोरोना आई महामारी , कोरोना की मारी यह दुनिया सारी| …