HINDI STORIES MOTIVATIONAL THOUGHTS TRENDY THOUGHTS

Laskhya banao , jeevan sarthak karo

lakshya banao jeevan saarthak karo

जब हम जन्म लेकर दुनिया में आते हैं यानी एक जीवन में प्रवेश करते हैं तो हमे एक शरीर मिलता है |यह शरीर धीरे धीरे बढ़ता है यानी बच्चा बड़ा होता है और समय पाकर एक समर्थ इंसान बन जाता है |हमारा शरीर जिस प्राण शक्ति के निर्देश पर सारा काम करता है , वह प्राण सकती है हमारी आत्मा | यदि आत्मा शरीर से निकल जाए तो शरीर सिर्फ माती का पुतला ही है | उसका कोई मोल नहीं है | इसीलिए हमे इस प्राण शक्ति के रहते शरीर से , निस्वार्थ भाव से आचे कर्म करना चाहिए तभी हमारे जीवन की सार्थकता है | वर्ना जन्म तो सभी लेते हैं , खाते हैं , पीते हैं , सोते हैं और एक दिन इस दुनिया से चले जाते हैं | कोई हमे जान नहीं पाता | कभी उन्हें कोई याद नहीं करता | हम अगर महापुर्ष के जीवन मैं झांक के देखें तो हम समझ पायेंगे कि उनहोंने अपने स्वार्थ से ऊपर उठाकर देश के लिए , समाज के लिए कुछ ऐसा किया कि आज भी उनका नाम घर घर मैं इज्ज़त से लिया जाता है |महाराणा प्रताप , रानी लक्ष्मीबाई, भगत सिंह आदि बहुत से उदाहरण है जिन्होंने देश भक्ति को प्रधानता दी और खुद को देश के लिए कुर्बान कर दिया |

समाज में हमारे देश मैं बहुत से वैज्ञानिको ने रात दिन को एक करके हमारे सुविधा और असुविधा की वस्तुए बनायीं |चिकित्सा शाश्त्रो ने आज इतनी तरक्की करली है कि बड़ी से बड़ी बीमारी का भी इलाज हम सफलतापूर्वक कर पा रहें है | बिमार्यिओं से लड़ पा रहें है | बहुत से साहित्यकारों ने और कवियों ने देश और समाज के लिए प्रेरणादायक रचनाएँ लिखी | भक्ति के ख्सेत्र में देखें तोह तुलसीदास, मीराबाई , आदि का नाम सुन्हेरे अक्षरों में चमक रहा है | इन सबका जीवन और सभी महापुरषों का जीवन तभी सार्थक हो पाया जब इन्होंने लक्ष्य प्राप्ति के लिए सब कुछ भूलकर पूरी लगन से कार्य में मशकूल हुए | बस मंजिल को पाना ही उनका मुख्या उदेह था | यह जीवन बहुत ही अनमोल है | हमे अपना लक्ष्य चुनकर सही मार्ग पर देश और समाज की भलाई के लिए कुछ करना चाहिए ताकि आगे की पीढियां हमे याद रख सके | अच्छी भूमिका और अच्छे लक्ष्य और अच्छे विचारों वाले लोगों को हमेशा याद किया जाता है | मन में भी , शब्दों मैं भी और जीवन में भी | जिस इंसान के कर्म अच्छे होते है हिम्मत से अपने इरादों को अपने सपने को पूरा क्र लेतें है और अपने जीवन को सार्थक करते है |अच्छे कर्म करने वाला इंसान ही इस दुनीया में अपना नाम उजागर करता है |

धन्यबाद

मंजू मधोगारिया

(1) Comment

  1. […] तो मैंने इस विषय पर बहुत विचार किया , अध्यन किया तो कुछ बातें सामने आई | मुझे जो समझ में […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *